रविवार, 7 जुलाई 2019

सदी का सर्वश्रेष्ठ आविष्कार !

.
.
.

सदी का आविष्कार !

और आखिरकार वह दिन आ ही गया, जब बिट्टू ने अपनी खोज का फाइनल टैस्ट करना था, भैया अब केवल कार का ही प्रयोग करते थे, बाइक पूरी तरह उसी की थी, दिन में उसने भैया की बाइक की टंकी पूरी तरह खाली की, ठीक एक लीटर तेल भरा, आधा लीटर बोतल में ले ठीक बारह बजे हाइवे पर बाइक 40 की रफ्तार से चलाई, पूरा तेल खत्म होने तक चलाता रहा, देखा पूरे 45 किलोमीटर चली बाइक उस एक लीटर तेल में, अब बिट्टू ने साथ लाया तेल भरा, और नजदीकी पेट्रोल पम्प से दोबारा बोतल और टँकी में दो लीटर तेल भरवा घर पहुँच गया, रात सोने से पहले उसे कल की तैयारी जो करनी थी।

रात दस बजे घर में सभी के सोने के बाद, बिट्टू फिर आँगन में गया, खड़ी बाइक का स्पार्क प्लग खोल खुद द्वारा खोजा पेस्ट लगाया, फ्यूल पाइप को स्वयं बनाई चिमटी से खास तरीके से दबाया, फ्यूल टैंक के ऊपर पतले मार्कर से स्वरचित मन्त्र लिखा और बाइक की टँकी पूरी तरह खाली कर उसमें दोबारा ठीक एक ही लीटर पेट्रोल भरा, और हाँ, लिड बंद करने से पहले टैंक में स्वयं द्वारा जंगल जा खोजा वह चमत्कारी पत्ता भी डाल दिया।

रात बिट्टू को गहरी नींद आई और वही शानदार सपना भी, कि, चमत्कारिक रूप से वाहनों की माईलेज बढ़ाने सम्बन्धी आविष्कार के कारण पूरी दुनिया में उसके चर्चे हैं। वह वैसे भी छोटे-मोटे काम करने के लिये तो दुनिया में नहीं आया था।

अगला दिन इतवार था, ठीक बारह बजे बिट्टू ने बाइक निकाली और चल पड़ा हाइवे पर, ठीक 40 की रफ्तार रखते हुए, धीरे धीरे समय बीता, 45 किलोमीटर पार हो गये, बाइक चलती रही, 50 पार हुए, 55 और 60 भी पार हो गया, 65 पार होते ही बिट्टू को लगा कि आविष्कार तो उम्मीद से ज्यादा सफल रहा और उसने बाइक वापस लौटा दी, पर यह क्या, बाइक चलती ही रही और वह वापस घर तक पहुँच गया।

घर के आँगन में बाइक खड़ी कर बिट्टू मारे खुशी व गर्व के चिल्लाता ड्रॉइंग रूम में घुसा, पूरा परिवार टीवी पर सीरियल देख रहा था, बिट्टू ने अपनी यह महान उपलब्धि उन्हें बताई, सारे घर वाले मारे खुशी के पागल से हो गये, पर भैया कुछ नहीं बोले, आपसी रिश्ते तल्ख़ तो पहले से ही थे, पर अब बिट्टू को जीवन में पहली बार भैया से घृणा सी होने लगी।

आखिरकार भैया बोले, "रात दो बजे रवि के पापा का फोन आया, उसका एक्सीडेंट हुआ था हाइवे पर, खून की जरूरत थी, जल्दी में कार गैराज से न निकाल तेरी बाइक ले गया, तेरे हाथ में बाइक होने पर तेल हमेशा कम ही रहता है, इसलिये घर से निकलते ही टँकी फुल करा दी थी मैंने।"

बिट्टू को अब और मेहनत करनी होगी।



...