मंगलवार, 10 अगस्त 2010

एकदम नया और शानदार है यह.. आप भी 'अपनी वाणी' आज ही बनाइये इसे !!!


.
.
.


मेरे 'ब्लॉगर' दोस्तों,


यूं ही नेट पर विचरण करते समय यहाँ से पता चला, अपनी वाणी के बारे में...


अभी तक केवल ३९ ब्लॉग ही जुड़े हैं इस से... परंतु बहुत ही साफ-सुथरा, मिनिमलिस्टिक और तेज संकलक लगता है यह... अभी तक जो भी फीचर इसमें हैं... मुझे नहीं लगता कि उनसे भविष्य में कभी कोई विवाद जन्म ले सकता है।


मेरी बात पर भरोसा करते हैं तो... देर न करें आज अभी ही अपनी वाणी से जुड़िये और अपनी वाणी को और मुखर कीजिये मायावी महाजाल में...


आभार!





...




7 टिप्‍पणियां:

  1. आप ठीक कह रहे हैं , इसका सदस्य बन गया हूँ

    उत्तर देंहटाएं
  2. उपयोगी जानकारी। सदस्य बन गया हूं। देखता हूं हमारे ब्लॉग की पोस्ट इस प्लेटफार्म पर आ पाती है या नहीं क्योंकि इस ब्लॉग पर ख़बरों की गति बेहद तेज़ है और संभवतः इसी से परेशान होकर हमारीवाणी ने इसे सूची से हटा दिया है।

    उत्तर देंहटाएं
  3. लगता है, अभी अभी 'अपनीवाणी' को किसी की नज़र लग गई।
    कोई वायरस अटैक हुआ है, शायद्।

    उत्तर देंहटाएं
  4. अपनीवाणी पर ज़बरदस्त वाइरस हमला हुआ है किसी गलत पोस्ट से हम इस समस्या को हल करने की पूरी कोशिश कर रहें है !

    धन्यवाद...
    आपकी अपनी टीम www.apnivani.com

    उत्तर देंहटाएं
  5. अपनीवाणी वेबसाइट से अब पूरी तरह वायरस को हटा दिया गया है अब आप अपनीवाणी पर आने के लिए संकोच न करें!

    धन्यवाद...
    आपकी अपनी टीम www.apnivani.com

    उत्तर देंहटाएं

मेरे इस आलेख को पढ़ कर ही यदि आपके मन में कोई विचार उत्पन्न हुऐ हैं तो कृपया उन्हें 'नेकी कर दरिया में डाल' की तर्ज पर ही यहाँ टिप्पणी रूप में दर्ज करें... इस टिप्पणी के पीछे कोई अन्य छिपा हुआ मंतव्य न रखें, आप इसे उधार में मुझे दी गयी टिप्पणी न समझें, प्रतिउत्तर में आपके ब्लॉग पर टिप्पणी करने की किसी बाध्यता को मैं नहीं मानता व मुझसे या किसी अन्य ब्लॉगर से भी ऐसी अपेक्षा रखना न तो नैतिक है न उचित ही !... मैं किसी अन्य के लिखे आलेखों पर भी इसी नियम व भावना के तहत टिपियाता हूँ !

असहमति को इस ब्लॉग पर पूरा सम्मान दिया जाता है, आप मेरे किसी भी विचार का खुल कर विरोध या समर्थन कर सकते हैं, परंतु अशिष्ट या अश्लील भाषा यु्क्त अथवा किसी के भी ऊपर व्यक्तिगत आक्षेपयुक्त टिप्पणियाँ कृपया यहाँ न दें... आप अपनी टिप्पणियाँ English, हिन्दी, रोमन में लिखी हिन्दी, हिंग्लिश आदि किसी भी तरीके से लिख सकते हैं... नहीं कुछ लिखना चाहते हैं तो भी चलेगा... आपके आने का शुक्रिया... आते रहियेगा भविष्य में भी... आभार!